अपना प्रदेश

बाढ़ के पानी से मां की 40 प्रतिमाएं हुईं खराब, पंडालों में पसरा सन्नाटा

गाजीपुर। क्षेत्र में बाढ़ का कहर लगातार जारी है। इसका असर अब त्योहारों पर भी पड़ने लगा है। बाढ़ के कहर के चलते धूमधाम से मनाया जाने वाला दुर्गा पूजा भी फीका हो गया है। तीन महीने पहले से कोलकाता से आए कारीगरों ने मां दुर्गा की प्रतिमाएं बनाने का काम शुरू कर दिया था, लेकिन लगातार हो रही बारिश और बाढ़ के चलते ज्यादातर मूर्तियां पानी में डूब कर खराब हो गई। जिसके कारण कारीगरों की महीनों की मेहनत चंद पलों में ही बर्बाद हो गई हैं।

जनपद में लगातार हो रही बारिश के कारण मां की मूर्तियां और बांस,पुआल के ढांचे इधर उधर पानी में डूबे नजर आ रहे हैं। वहीं इसका असर गाजीपुर के पंडालों पर भी देखने को मिल रहा है। बड़े-बड़े पंडाल तो बना दिए गए हैं, लेकिन अब तक इन पंडालों में मां दुर्गा की प्रतिमाएं नहीं लग पाई हैं।

बता दें कि पानी भरने की वजह से सभी मूर्तियां खराब हो गई हैं। 40 मूर्तियां बनकर तैयार थीं लेकिन सब बर्बाद हो गई। वहीं मूर्ति के खराब हो जाने से मूर्तिकारों को आठ लाख रुपए का घाटा हुआ है। जहां मूर्ति बनाई जा रही थी वहां चारों तरफ दीवार थी। पानी के दबाव के चलते दीवार टूट गई। जिससे उस जगह में  कमर तक पानी भर गया और सभी मूर्तियां बर्बाद हो गई।

वहीं स्थानीय सभासद ने बताया कि 4 दिन लगातार हुई बारिश से कुछ इलाकों का पानी खोला गया। जिससे इस इलाके में पहले से पानी होने के बावजूद अतिरिक्त पानी का दबाव और बढ़ गया और जलभराव हो गया।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top