अपना प्रदेश

संत गाडगे महाराज की 144वीं जयंती समारोह का किया गया आयोजन

वाराणसी। राष्ट्रीय बाबा संत गाडगे महाराज की 144वीं जयंती समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन सीताराम भवन छित्तुपुर में किया गया। इस अवसर पर एमडी डॉ प्रमोद कुमार ने कहा कि संत गाडगे महाराज ने अपना घर त्याग कर दिया था। उनका सारा धन उच्च वर्गीय लोगों द्वारा हड़प लिया गया था।

डॉक्टर प्रमोद ने कहा कि संत गाडगे का घर परिवार नशाखोरी व देवी देवताओं के चक्कर में फंसकर बर्बाद हो गया था। आज प्रत्येक व्यक्ति को शिक्षित होने की जरूरत है। मदन मोहन ने कहा कि बाबासाहेब आंबेडकर ने उच्च शिक्षा हासिल किया और शिक्षा के बल पर भारतीय संविधान की रचना किया। उन्होंने कहा कि भीमराव आंबेडकर ने उपेक्षित एवं अधिकार से वंचित लोगों को अधिकार दिलाया था। आज हम जो भी है उनके द्वारा दिए गए अधिकारियों की देन से है। संत गाडगे ने अपने जीवनकाल में सफाई का संदेश दिया था।

लोगों ने कहा कि जो संत गाडगे महाराज ने शिक्षित ना होने के कारण पीड़ा सहा वो आज के युवा सहन न करें। इस दिशा में प्रत्येक लोगों को शिक्षित होना अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जब भगवान अपने मंदिर को रोशन नहीं कर सकता वह आपके जीवन को भी रोशन नहीं कर सकता है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top